Extrovert and Introvert meaning in Hindi

Extrovert and Introvert meaning in Hindi. हेलो दोस्तों, इस article में हम आपको Extrovert और Introvert में क्या अंतर होता है और इन दोनों का क्या मतलब होता है इसके बारे में बताने वाले हैं. अगर आप Google में Extrovert meaning in Hindi search करेंगे तो extrovert का मतलब बहिर्मुखी और अगर आप Introvert meaning in Hindi search करेंगे तो Introvert का मतलब अंतर्मुखी होता है, ऐसा देखने को मिलेगा पर क्या आपको वाकई में यह समझ में आया कि आखिर अंतर्मुखी का क्या मतलब होता है और बहिर्मुखी का क्या मतलब होता है.

Extrovert and Introvert meaning in Hindi
Extrovert and Introvert meaning in Hindi

में यह गारंटी के साथ कह सकता हूं कि आपको समझ में नहीं आया होगा क्योंकि यह ऐसे शब्द है जिन्हें समझने के लिए आपको इसके हिंदी मतलब के साथ-साथ यह भी समझना होगा कि आखिर इसका उपयोग कहां किया जाता है और क्यों किया जाता है, यह शब्द किन लोगों को दर्शाता है, इत्यादि. तभी आप Introvert का मतलब और Extrovert का मतलब समझ पाएंगे.

आज के इस आर्टिकल में आप विस्तार से यह जानने वाले हैं कि आखिर Introvert का मतलब क्या होता है और Extrovert का मतलब क्या होता है और Extrovert और Introvert में अंतर क्या होता है, तो अगर आप भी यह जानने के लिए उत्सुक है तो इस लेख को पूरा जरूर पढ़ें.

सबसे पहले हम Introvert meaning in Hindi के बारे में समझते हैं और फिर हम extrovert के बारे में समझेंगे.

Introvert meaning in Hindi

Introvert का मतलब अंतर्मुखी होता है. इसे आसान शब्दों में समझाया जाए तो यह ऐसे व्यक्ति को दर्शाता है जो कि बहुत शर्मीला होता है और बहुत कम बोलता है. यह शब्द ऐसे व्यक्ति को दर्शाने के लिए उपयोग में लिया जाता है जो कि अकेला रहना पसंद करता है और वह किसी से ज्यादा बात नहीं करता, उस व्यक्ति के बहुत सारे दोस्त नहीं होते हैं. कुल मिलाकर अगर कोई व्यक्ति ऐसा है जो कि बहुत कम बात करता है, हमेशा अकेला रहता है, उसे अकेले रहना अच्छा लगता है, तो उस व्यक्ति को Introvert कहते हैं.

अगर आप भी कम बोलते हैं या अकेले रहना पसंद करते हैं तो आप भी एक Introvert ही है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस दुनिया में जितने भी लोग हैं उनके एक चौथाई लोग Introvert है मतलब कि वह इंसान शर्मीले स्वभाव के होते हैं.

अब आपको पता चल गया होगा Introvert का हिंदी मतलब क्या होता है. तो चलिए अब हम आपको Introvert की कुछ विशेषताएं बताते हैं.

Introvert की विशेषताएं

  • जो लोग Introvert होते हैं वह लोग थोड़े ज्यादा समझदार होते हैं मतलब कि इंटेलिजेंट होते हैं.
  • वे लोग ज्यादा बात नहीं करते मतलब कि वह लोग किसी के साथ बेफिजूल में टाइम पास नहीं करते.
  • ऐसे लोग थोड़े शर्मीले होते हैं और इस वजह से वे लोग हमेशा अकेले रहना पसंद करते हैं और उन्हें अकेले में ही आनंद आता है.
  • Introvert लोग ज्यादा नर्वस हो जाते हैं और काफी जल्दी उत्सुक भी हो जाते हैं.
  • ज्यादातर लोगों को Introvert लोगों से कोई दिक्कत नहीं होती है क्योंकि Introvert लोग किसी और की जिंदगी में ज्यादा दिलचस्पी नहीं रखते हैं, उन्हें बस अपनी जिंदगी से ज्यादा लगाव होता है और वह अकेले ही रहते हैं, उन्हें अच्छा लगता है. पर इसका मतलब यह नहीं है कि Introvert लोग किसी के साथ बात भी नहीं करते, उन्हें कोई अच्छा भी नहीं लगता, नहीं ऐसा बिल्कुल भी नहीं है. कम बोलना या फिर शर्मीला होना एक स्वभाव होता है जोकि हर इंसान का अलग-अलग होता है.
  • Introvert लोग अगर किसी काम को करने की सोचते हैं तो वह उस काम को पूरा करने से पहले उनके बारे में गहराई से सोचते हैं. और उस काम से जुड़े हर एक पहलू के बारे में सोचते हैं.

यहां पर हमने आपको Introvert लोगों की मतलब की अंतर्मुखी लोगों की विशेषता क्या होती है इसके बारे में भी बता दिया है तो चलिए अब बारी आती है यह जानने की की Extrovert का हिंदी मतलब क्या होता है और Extrovert लोगों की क्या विशेषता होती है.

इन्हें भी पढ़े:

Extrovert meaning in Hindi

Extrovert का मतलब बहिर्मुखी होता है. यह ऐसे लोग होते हैं जिनमे उत्साह कूट-कूट के भरा हुआ होता है और वह बहुत ज्यादा confident में रहते है. Extrovert लोगों को group, में रहना अच्छा लगता है उन्हें अकेला रहना अच्छा नहीं लगता है. Extrovert लोगों को शर्म तो आती है पर Introvert लोगों से कम शर्माते हैं.

अभी आप Extrovert और Introvert लोगों में से कौन से लोग अच्छे होते हैं इसके बारे में ना सोचो, सभी लोग अच्छे होते हैं, यह तो बस लोगों के स्वभाव का नजरिया है. दोनों लोग अपनी ओर से सफल है और दोनों ही अपनी जिंदगी में खुशी है. एक्सट्रोवर्ट और इंट्रोवर्ट उस व्यक्ति के स्वभाव को दर्शाता है कि आखिर उस व्यक्ति का स्वभाव कैसा है और वह दूसरे लोगों के साथ कैसा बर्ताव करता है.

बहिर्मुखी लोगों की भी कुछ विशेषताएं होती है जोकि उन्हें अंतर्मुखी लोगों से थोड़ा अलग बनाते हैं.

 Also read:

Extrovert लोगों की विशेषताएं

  • बहिर्मुखी लोन अंतर्मुखी लोगों की तुलना में कम शर्माते हैं और वह बेजिजक सभी के साथ बात करते हैं.
  • Extrovert लोग अपने दोस्तों के साथ रहना ज्यादा पसंद करते हैं और अपने रिश्तेदारों के साथ और अन्य लोगों के साथ ज्यादा वक्त बिताना पसंद करते हैं.
  • ऐसे लोगों को अपने आप पर बहुत ज्यादा भरोसा होता है और पूरा आत्मविश्वास होता है, एक confident होता है और अपने Goals को पूरा करने के लिए जी तोड़ मेहनत करते हैं. यह विशेषता Introvert लोगों की भी होती है पर अपने Goals को achieve करने का तरीका दोनों में थोड़ा अलग-अलग होता है. दोनों प्रकार के लोगों में होता है confidence होता हैं, आत्मविश्वास होता है पर ये लोग अपने अंदर के आत्मविश्वास और कॉन्फिडेंस को थोड़ा सा अलग नजरिए से देखते हैं.
  • ज्यादातर लोगों को Extrovert लोग पसंद आते हैं क्योंकि Extrovert लोग अन्य लोगों के साथ जल्दी से घुलमिल जाते हैं और वे सबके साथ अच्छे से व्यवहार भी करते हैं और उन्हें दूसरे लोगों के साथ रहना अच्छा भी लगता है. Introvert लोगों को अकेला रहना थोड़ा ज्यादा पसंद होता है तो ऐसे में कुछ लोगों को बुरा भी लग सकता है.

तो अब आपको पता चल गया होगा की एक्सट्रोवर्ट का हिंदी मतलब क्या होता है और इंट्रोवर्ट को हिंदी में क्या कहते हैं. अंतर्मुखी लोगों की विशेषता और बहिर्मुखी लोगों की विशेषता क्या होती है यह जानने के बाद आपको उन दोनों में क्या अंतर होता है इसके बारे में भी पता चल गया होगा.

यह भी पढ़े:

अब आपके मन में जो सवाल थे जैसे की What is extrovert in Hindi, What is Introvert in Hindi, Extrovert and Introvert meaning in Hindi उनका जवाब मिल गया होगा. देखो, कुछ शब्द ऐसे होते हैं जिनका केवल हिंदी मतलब जानने से हमें उन शब्दों के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं मिलते हैं और आधी अधूरी जानकारी नहीं मिलाती हैं, और ऐसे में हम ज्यादा confuse हो जाते है. Extrovert और Introvert ऐसे ही 2 शब्द है, इसे समझने के लिए ज्यादा जानकारी देना आवश्यक है और इसी के लिए हमने यह article लिखा है.

Conclusion:

तो हम आशा करते हैं कि extrovert and Introvert meaning in Hindi, Introvert का हिंदी अर्थ और Extrovert का हिंदी अर्थ के बारे में लिखा गया यह आर्टिकल आपको अच्छा लगा होगा और आपके मन में जो भी doubts थे उनका solution आपको मिल गया होगा. अब आगे से आप भी किसी व्यक्ति के साथ थोड़ा वक्त गुजार कर वह व्यक्ति Introvert है या फिर Extrovert है यह पता कर सकते हैं क्योंकि कुछ समय तक रहने के बाद आपको उस व्यक्ति के स्वभाव के बारे में जरूर पता चल जाएगा. भले ज्यादा नहीं पता चले पर कुछ तो पता चलेगा.

Also read:

अगर आपको यह article पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों को share करना मत भूलियेगा. मिलते हैं एक नए article के साथ बहुत जल्द, तब तक के लिए आप हमारे blog पर publish किए गए दुसरे articles को जरूर पढ़ें. धन्यवाद.

Newest
Previous
Next Post »