Spam meaning in Hindi | स्पैम क्या होता है और इससे कैसे बचे

Spam meaning in Hindi। हेलो दोस्तों, आज हम आपको spam क्या होता है और spam से कैसे बचें इसके बारे में जानकारी देने वाले है. अगर आप इंटरनेट का उपयोग करते हैं तो आपने स्पैम के बारे में तो जरूर सुना होगा. हमें अक्सर स्पैम के बारे में सुनने को मिलता है. इंटरनेट की दुनिया में ऐसे शब्द का जिक्र बहुत बार किया जाता है. और हो सकता है आपने भी कभी spam किया होगा, पर आपको पता ही नहीं होता है कि आपने स्पैम करा है.

Spam meaning in Hindi
Spam meaning in Hindi


अगर आप जानना चाहते हैं कि स्पैम क्या होता है तो इस आर्टिकल को आप शुरू से लेकर अंत तक जरूर पढ़ें क्योंकि यहां पर हम जानेंगे की स्पैम कितने प्रकार के होते है जैसे की ईमेल spam क्या होता है (Spam email meaning in Hindi), व्हाट्सएप स्पैम और फेसबुक स्पैम क्या होता है (Facebook and WhatsApp spam meaning in Hindi). स्पैम को कैसे पहचानते हैं और स्पैम से कैसे बचे और यह भी जानेंगे कि अगर हम स्पैम करते हैं तो इससे क्या हमें कोई फायदा होता है या नहीं? मतलब कि स्पैम करने के फायदे क्या है और स्पैम करने के नुकसान क्या है. इसी तरह पेन से जुड़ी सभी जानकारी आपको मिलने वाले हैं.

तो चलिए शुरू करते हैं और सबसे पहले जानते हैं कि स्पैम का मतलब क्या होता है (spam meaning in Hindi) और फिर हम आपको स्पैम कितने प्रकार के होते हैं इसकी जानकारी देंगे.

Spam meaning in Hindi -  spam क्या होता है

अगर आप इंटरनेट का उपयोग करते हैं तो इंटरनेट पर काम करने के लिए कुछ नियम बनाए जाते हैं, कुछ policy होती है. तो अगर आप उस नियम के विरुद्ध जाकर कोई काम करते हैं तो उसे spam कहा जाता है.

आसान शब्दों में स्पैम की व्याख्या समझाएं तो मान लीजिए आप किसी website का उपयोग करते हैं और उस वेबसाइट का उपयोग किस तरह से आपको करना चाहिए इसके कुछ नियम उस वेबसाइट के मालिक द्वारा बनाए जाते हैं, जो भी उस वेबसाइट को चलाता है, उसके द्वारा या उसके समूह के द्वारा. तो अगर आप उस वेबसाइट के अंदर कोई ऐसा काम करते हैं जो कि उस के नियम के विपरीत हो, मतलब कि आप उस वेबसाइट की पॉलिसी का पालन नहीं कर रहे हैं तो उसे स्पैम कहते हैं.

Spammers किसे कहते है

जो लोग spam करते है उसे spammers कहते है. जो लोग बार-बार एक ही email या message भेजता है या फिर बड़ी तादात में emails या messages भेजता है उसे spammers कहते है.

Also read:

 

Spam कहा-कहा होता है | स्पैम के प्रकार

Spam बहुत तरह के होते हैं. जैसे की email spam होते हैं, WhatsApp spam होता है, Facebook group और Facebook page spam होता है YouTube पर भी spam होता है और website पर भी spam होता है. हर जगह पर स्पैम हो सकता है.

ज्यादातर spam हमें email और social networking website जैसे कि Facebook, Instagram, Reddit, इत्यादि पर देखने को मिलते हैं. क्योंकि इस social platform को use करने वाले लोगों की संख्या भी बहुत ज्यादा है और इसकी popularity भी बहुत ज्यादा है और जहां सबसे ज्यादा लोग होते हैं वहां spam होना आम बात है.

तो अब आपको पता चल गया होगा स्पैम का मतलब क्या होता है (spam meaning in Hindi) तो चलिए अब हम आपको बताते हैं कि स्पैम कहां कहां पर होता है और स्पैम कितने प्रकार के होते हैं और स्पैम से कैसे बचे.

Email spam क्या होता है - Spam email meaning in Hindi

सबसे ज्यादा spam ईमेल के जरिए होता है. जब कोई व्यक्ति बहुत ज्यादा मात्रा में किसी दूसरे व्यक्ति को email भेजता है, तो उसे ईमेल स्पैम कहा जाता है और इसके पीछे का एक ही मकसद होता है और वह है प्रमोशन. अपने प्रोडक्ट का प्रमोशन करना.

जब भी sender आपकी अनुमति के बगैर आपको बहुत ज्यादा बार मेल भेजता है, अपने product का promotion करने के लिए तो उसे ईमेल स्पैम कहते हैं और ऐसे emails ज्यादातर आपको अपने Gmail के spam folder में देखने को मिलते हैं. आप एक बार अपनी Gmail के spam folder को open करके जरूर देखें आपको बहुत सारे emails देखने को मिलेंगे जोकि spam emails होते है. और इसका केवल एक ही उद्देश्य होता है और वह है किसी प्रोडक्ट का प्रचार करना.

Spam email भेजने के फायदे

Spam emails भेजने के बहुत सारे फायदे होते हैं. जैसे कि हमने आपको ऊपर बताएं की इसका इस्तेमाल लोग अपने प्रोडक्ट या फिर किसी दूसरे कंपनी के प्रोडक्ट का प्रचार करने के लिए, मतलब की advertisement करने के लिए करता है. 

एक उदाहरण लेकर और आसानी से समझते हैं. अगर कोई व्यक्ति 10000 लोगों को स्पैम ईमेल भेजता है तो उनमें से कम से कम 1000 लोग तो उस ईमेल को जरूर open करके देखेंगे. अगर आप भी उस ईमेल को ओपन करके देखते हैं तो आपको उसमें केवल विज्ञापन ही दिखाई देंगे. जिसमें के प्रोडक्ट के बारे में बताया गया होता है और इसे खरीदने के बारे में जानकारी दी गई होती है. तो उस हजार लोगों में से अगर 50 या 100 लोगों ने भी उस product को खरीद लिया तो जिसने वो email भेजा है उसको बहुत फायदा हो जाएगा. और इसके लिए उन्हें पैसे खर्च करने की भी जरूरत नहीं पड़ती है Free में promotion भी हो जाता है और product भी लोग खरीदते हैं.

इसी वजह से email spam सबसे ज्यादा किया जाता है. तो अब आपको पता चल गया होगा कि ईमेल स्पैम किसे कहते है (What is spam email in Hindi).और ईमेल स्पैम के फायदे क्या है.

अगर आपको भी इस तरह से स्पैम एमैल्स आते है तो नीचे आपको कुछ tips दी गयी है, जिससे आप यह पता लगा सकते हैं कि email spam है कि नहीं. मतलब की स्पैम ईमेल की पहचान कैसे करें.

Spam email की पहचान कैसे करें

वैसे ज्यादातर spam email तो आपके Gmail के spam folder में चले जाते हैं. स्पैम फोल्डर में जो भी emails होते है वह spam होते है. पर कुछ spam folder में जाने के बजाय inbox में आ जाते हैं. अगर आप भी जानना चाहते हैं कि स्पैम ईमेल कैसे पहचाने तो इसके लिए नीचे आपको कुछ जानकारी दी गई है.

  • Spam folder में जो भी emails होते हैं वह spam emails होते हैं.
  • कभी-कबार जब आप किसी email को open करते हैं तो सबसे ऊपर आपको एक notification दिखाया जाता है. जिसमें साफ-साफ लिखा होता है कि "हमारे सिस्टम के द्वारा ईमेल स्पैम लग रहा है" ऐसा कुछ इंग्लिश में लिखा रहता है. अगर Gmail के system में इसी प्रकार के बहुत सारे emails पाए जाते हैं तो इसे spam माना जाता है.
  • अगर आपको रोज बहुत सारे ईमेल आते हैं वह भी एक ही sender से तो आप समझ जाइए की वह spamming कर रहा है. ऐसे मेल में विज्ञापन ही होते हैं.
  • Email पढने से पहले यह जरूर पता करें कि यह ई-मेल किस Email ID से भेजा गया है.
  • एक बार display name जरूर चेक करें.
  • Spelling को भी जरूर चेक करें. क्योंकि स्पैमर किसी बड़े company के नाम के जैसा नाम से आपको ईमेल भेजते हैं. जैसे कि Amazon एक बहुत बड़ी कंपनी है. तो spammers इसी नाम से मिलता-जुलता नाम से आपको ईमेल भेजते हैं. जैसे कि Amazone, amezon, etc. इसमें आप देख सकते हैं कि spelling अलग-अलग हैं. तो आपको एक बार स्पेलिंग जरूर check करना चाहिए.
  • Spammers ज्यादातर बड़ी कंपनी के नाम का उपयोग करते हैं स्पैम ईमेल भेजने के लिए और अपने प्रोडक्ट का प्रमोशन करने के लिए. क्योंकि अगर कोई जानी-मानी कंपनी का नाम लेकर ईमेल भेजेंगे तो उस ईमेल को खोलने के chances ज्यादा रहता है इसीलिए.

Facebook spam meaning in Hindi

जब भी कोई व्यक्ति फेसबुक पर बार-बार किसी वेबसाइट का लिंक या फिर यूट्यूब वीडियो का लिंक या फिर कोई प्रोडक्ट के लिंक को शेयर करता है तो उसे फेसबुक स्पैम कहते हैं. इसी तरह अगर कोई फेसबुक ग्रुप में बार-बार लिंक शेयर करता है या फिर वही पोस्ट बार-बार शेयर करता है तो उसे फेसबुक ग्रुप्स स्पैम कहा जाता है.

अगर आप भी फेसबुक पर इस तरह की प्रक्रिया करते हैं और स्पैम करते हैं तो इससे आपका अकाउंट ब्लॉक भी हो सकता है. क्योकि फेसबुक के एल्गोरिथ्म इसे जल्दी से डिटेक्ट कर लेते हैं. और अगर फेसबुक के algorithms के द्वारा ऐसी कोई प्रक्रिया डिटेक्ट की जाती है तो आपका अकाउंट कुछ दिनों के लिए या फिर हमेशा के लिए लॉक कर दिया जाता है.

जब भी आप फेसबुक पर किसी ग्रुप को ज्वाइन करते हैं तो उस ग्रुप के कुछ नियम बनाए गए होते हैं कि आप यहां पर किस तरह के पोस्ट कर सकते हैं, किस प्रकार के लिंक शेयर कर सकते हैं, इत्यादी. तो अगर आप उन नियम के विपरीत जाकर कोई काम करते हैं तो वहां पर आप स्पैमर बन जाते हैं. इसे हम फेसबुक ग्रुप स्पैम ही कहते है. इसके परिणाम स्वरूप आपको उस ग्रुप से रिमूव भी किया जाता है और आपका अकाउंट भी ब्लॉक करा जा सकता है.

Email spam की तरह Facebook spam में भी लोग अपने प्रोडक्ट का प्रमोशन करने के लिए ही use करते हैं. ईमेल स्पैम में लोग बार बार ईमेल भेजते है और फेसबुक स्पैम में लोग बार-बार एक ही लिंक को शेयर कर स्पैम करते है.

WhatsApp spam meaning in Hindi

WhatsApp पर बार-बार किसी प्रोडक्ट का प्रमोशन करने के लिए या फिर उसे बेचने के लिए लिंक शेयर करना व्हाट्सएप स्पैम कहा जाता है. ईमेल और फेसबुक spamming की तरह WhatsApp पर भी spamming होती है.

आपको कई बार ऐसे messages आए होंगे कि अगर आप इस फोटो को 10 लोगों के साथ share करते हैं तो आपको इनाम दिया जाएगा या फिर इस लिंक पर क्लिक करेंगे तो आपको इनाम दिया जाएगा. तो आप ऐसे messages से दूर ही रहे और किसी भी लिंक पर क्लिक न करे. क्योंकि इससे आपको किसी भी प्रकार का इनाम नहीं मिलने वाला है. spammers लोग इस तरह के messages इसीलिए भेजते हैं क्योंकि कुछ लोग इसे पढ़कर 10 लोगों को शेयर कर देते हैं और ऐसे में उनके प्रोडक्ट का प्रमोशन भी हो जाता है. तो अगर आपको भी आगे से ऐसा कोई मैसेज नजर आए या फिर कोई लिंक दिखे तो उस पर क्लिक ना करें. इसे हम व्हाट्सएप स्पैमिंग कहते है (WhatsApp spamming meaning Hindi).

यह भी पढ़े:

YouTube spam कैसे होता है

ईमेल और फेसबुक की तरह यूट्यूब पर भी spam होते हैं. एक प्रकार के comment को अलग-अलग video के comment box में जाकर comment करना YouTube spam कहलाता है. जो वीडियो देखते हैं वह कुछ इस तरह स्पैम करते हैं पर जो video create करते हैं मतलब की अगर YouTube video creator के द्वारा एक ही वीडियो को बार-बार या फिर कुछ समय के बाद upload करना spam कहा जाता है और इसी के साथ साथ अगर कोई कंटेंट क्रिएटर title में कुछ और लिखता है और उस वीडियो के अंदर कोई और content है तो ऐसे में इस तरह के काम को YouTube spam कहते हैं.

Spam call meaning in Hindi

अगर आपको कोई ऐसा call आता है जिसमें कि आपको किसी प्रोडक्ट के बारे में जानकारी दी जाती है या फिर उस प्रोडक्ट को खरीदने के लिए उत्साहित किया जाता है तो ऐसे calls को spam call कहा जाता है.

और इस तरह के call में आपको किसी दूसरी वेबसाइट पर रजिस्टर करने की बात की जाये की आपको इनाम मिलेगा ऐसा कुछ बताया जाता है. या फिर आप हमसे यह सर्विस ले लीजिए, आपको इतना फायदा मिल सकता है. अगर ऐसी बातें आपको सुनने को मिलती है तो आप समझ जाइए कि यह स्पैम कॉल है. क्योंकि जिसने आपको कॉल किया है वह आपकी तरह दिन में कई लोगों को इसी प्रकार call करता है.

ज्यादातर कॉल product का प्रचार करने के लिए ही आते हैं और उसमे प्रोडक्ट का प्रमोशन की ही बात की जाती है. तो अब आप जान चुके होगे की स्पैम कॉल किसे कहते है (Spam call meaning in Hindi).

तो यह थे स्पैम के प्रकार मतलब कि स्पैम कहां कहां होता है और स्पैम किस तरह होता है (Spam meaning in Hindi) और स्पैम करने का उद्देश्य क्या होता है (Purpose of spamming in Hindi). स्पैमर स्पैम करने के लिए अलग-अलग प्लेटफार्म का उपयोग करते हैं. जिस प्लेटफार्म पर सबसे ज्यादा लोग होते हैं वहा अपं होने की संभावना सबसे ज्यादा होती है और वहां पर स्पैम होते ही है. जैसे कि यूट्यूब, फेसबुक, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम, लिंकडइन, टि्वटर. यह सभी बहुत बड़े सोशल प्लेटफार्म है और इन्हीं सोशल साइट का इस्तेमाल करके स्पैम किया जाता हैं. स्पैम करने का तरीका अलग अलग हो सकता है पर उसका मकसद ज्यादातर किसी प्रोडक्ट का प्रचार करना ही होता है.

तो अब आपको पता चल गया होगा कि स्पैम का मतलब क्या है, फेसबुक स्पैम का मतलब क्या है (Facebook spam in Hindi), व्हाट्सएप स्पैम क्या है, यूट्यूब स्पैम क्या है और ईमेल ईमेल किसे कहते हैं (Email spamming meaning in Hindi) और स्पैम ईमेल को कैसे पहचाने इसकी जानकारी भी आपको दी गई है.

तो चलिए अब हम आपको बताते हैं कि स्पैम से कैसे बच सकते हैं मतलब कि स्पेन से कैसे बचे, स्पैम से बचने के उपाय क्या है.

Spam से कैसे बचे

  • अगर आपको कोई email आता है जिसमें आपको बताया जाता है कि आपको इनाम लगा है और इसे हासिल करने के लिए आपको अपनी कुछ डिटेल हमें देनी होगी ताकि हम आपको इनाम दे सके, तो आप समझ जाइए कि यह स्पैम ईमेल है और ऐसे में आप अपनी personal detail या अन्य कोई जानकारी ना दे. कभी भी ऐसे email या message पर भरोसा ना करें और अपनी किसी भी प्रकार की जानकारी share ना करें.
  • अगर आपको लगता है कि यह ईमेल या मैसेज स्पैम है तो ऐसे में उस में दिए गए किसी भी प्रकार के link पर आपको click नहीं करना है.
  • कई बार ऐसा होता है कि आपको कोई स्पैम ईमेल भेजता है, जिसमें कुछ documents attached की हुई होते हैं. तो ऐसी किसी भी फाइल को डाउनलोड ना करें. क्योंकि इस प्रकार की फाइल में वायरस भी हो सकते हैं जो कि आपके mobile या computer के लिए हानिकारक साबित हो सकते हैं. जैसे ही आप उसको डाउनलोड करते हैं तो वह वायरस आपके कंप्यूटर या फिर फोन में आ जाता है और ऐसे में उसकी वजह से आपके फोन या कंप्यूटर में जो भी data है वह हासिल कर सकता है. ऐसे में सावधानी रखें और ऐसे किसी  संदेह भरे डॉक्यूमेंट को डाउनलोड ना करें.
  • ज्यादातर ईमेल में केवल विज्ञापन दिखाएं देते हैं पर कुछ ईमेल या मैसेज ऐसे होते हैं जिसमें प्रोडक्ट को खरीदने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है और नीचे link भी दिया जाता है. तो आप ऐसे इमेल से दूर ही रहे और किसी भी प्रकार की खरीदारी ना करें और अपनी डिटेल भी ना दें. पर अगर आपने किसी भरोसेमंद वेबसाइट के newsletter को subscribe किया हो और अगर वह आपको कभी-कबार विज्ञापन के email भेजता है तो वह spam नहीं कहा जाता है. क्योकि उसने आपकी अनुमति के बगेर आपको email नहीं भेजा है. जब आपने उस वेबसाइट के newsletter को subscribe किया तभी वह आपको ईमेल भेजता है. इसलिए वह spamming नहीं होता.
  • अगर आप इंटरनेट पर ऐसी किसी वेबसाइट को ओपन करते हैं जो कि unsecured है मतलब की वेबसाइट के URL के आगे http लिखा हुआ आता है तो ऐसी वेबसाइट में आप अपनी details enter ना करें. क्योंकि ऐसी वेबसाइट secured नहीं होती है और ऐसी स्थिति में आपका डाटा भी सिक्योर नहीं रहता है.
  • ज्यादातर वेबसाइट में आपको अपनी email ID से signup करने के लिए बोला जाता है. ऐसे में अगर आपको उस वेबसाइट का उपयोग थोड़े समय के लिए करना है या फिर कोई जानकारी लेने के लिए करना है, तो आप अपना personal email ID ना दें. इसके लिए आप दूसरा ईमेल आईडी बनाएं और उस ईमेल आईडी का इस्तेमाल आप ऐसी वेबसाइट में sign up करने के लिए कर सकते हैं. और जो आपका पर्सनल email ID है मतलब की है उसे आप ऐसी जगह ही शेयर करें जहां पर आपको भरोसा हो.
तो कुछ इसी तरह आप spam से बच सकते हैं. spamming से बचने के उपाय आपको ऊपर बताए गए हैं. आगे से अगर आपको कोई email या message आता है तो उस पर action लेने से पहले, email में spam है कि नहीं इसकी पहचान जरूर करें और अगर spam email होता है तो ऐसे में उस email या message से दूर है. तो अब आपको पता चल गया होगा कि spam से कैसे बचे.
 
अन्य आर्टिकल्स:

Conclusion:

तो में उम्मीद करता हूं कि spam meaning in Hindi के बारे में लिखा गया यह article आपको पसंद आया होगा और spamming के बारे में सभी जानकारी मिल गई होगी. इस article में आपने सिखा की स्पैम क्या होता है- whats is spam in Hindi, spammer किसे कहते हैं, WhatsApp spam क्या है, Facebook spam क्या है, यूट्यूब पर spam कैसे होता है, Email spam का मतलब क्या होता है, Spam call meaning in Hindi, स्पैम ईमेल की पहचान कैसे करें, spam करने के फायदे क्या है. और सबसे महत्वपूर्ण बात की spam से कैसे बचे और spam से बचने का तरीका क्या है.

ऊपर बताए गए सभी topics को हमने discuss किया.  अगर आपके मन में कोई सवाल है या फिर आप हमसे कुछ पूछना चाहते हैं तो नीचे comment जरूर करें.

अगर आपको यह post पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करें ताकि वह भी स्पैमिंग के बारे में जान सकें और स्पैम से बचने के तरीके के बारे में भी जान सके. इसी तरह की जानकारी के लिए आप हमारे blog को जरूर follow करें. धन्यवाद.

Previous
Next Post »