5 Time management tips in Hindi - समय का सदुपयोग कैसे करें

समय का सदुपयोग कैसे करें - time management in Hindi | यार पता ही नहीं चला की दिन कैसे बीत गया. कितना कुछ करना था और कितना हुआ? क्या आपने भी कभी इस तरह की परिस्थिति का अनुभव किया है? सीधी सी बात है किया ही होगा. तो ऐसा क्यों होता है? क्या आप भी इस बात को लेकर चिंतित है? तो चिंता ना करे, आज मैं यहां पर आपको बताने वाला हूं कि आप कैसे समय का सदुपयोग कर सकें, टाइम मैनेजमेंट कैसे करें (time management in Hindi). हम सभी के पास दिन के 24 घंटे है और उन 24 घंटों में हम क्या करते हैं उस हिसाब से हमारी life भी manage होती है.


time management tips in Hindi
time management tips in Hindi


Time management in Hindi


क्या खूब कहा है एक इंसान ने कि "जब हम सुबह उठते हैं तो हमारी पॉकेट  में 24 घंटे ऐसे ही आ जाते हैं" और फिर हमें यह सोचना होता है कि हम उन 24 घंटे का सदुपयोग कैसे करें कि हमें अपनी सफलता को पाने के लिए ज्यादा वक्त ना लगे. हमें ही यह निश्चित करना होता है हमें जो समय मिला है उसका किस तरह से उपयोग करना है, समय का सदुपयोग कैसे करना है

टाइम मैनेजमेंट आज की जनरेशन की जरूरत है. वो कहते हैं ना "एक बार खर्च किया हुआ पैसा दोबारा कमाया जा सकता है पर अगर समय खर्च हो गया तो उसे दोबारा कमाया नहीं जा सकता". 

हम अक्सर कहते है की इस कार्य को करने का सही समय आएगा तब हम इस कार्य को करेंगे. पर हकीकत तो यह है कि हर समय अच्छा होता है कुछ नया करने के लिए. कमी तो इस बात की है की है की जो हमें समय मिला है उसे मैनेज कैसे करे? टाइम मैनेजमेंट कैसे करे और ऐसा क्या करें की हम अपने सारे कार्य को आसानी से कर सके.

हमारे जीवन में सबसे ज्यादा अहमियत समय की है और यह एक ऐसा बहुमूल्य रत्न है जोकि हर समय खत्म होता रहता है और यह खत्म हो इससे पहले हमें इसका उपयोग कर लेना चाहिए. जो व्यक्ति समय का सही उपयोग नहीं करता है वह कभी भी अपनी सफलता को नहीं पा सकता. सफलता पाने के लिए समय का सदुपयोग करना बहुत आवश्यक है. 

हम अपने जीवन के छोटे-छोटे कार्य को करने के लिए समय का ध्यान रखते हैं. आपको मैं एक उदाहरण देकर समझाता हूं कि जब हमें कहीं बाहर जाना होता है, किसी सगे संबंधी के घर जाना होता है तब हम कितनी तैयारी करते हैं, हम सब कुछ मैनेज करते हैं, जैसे कि समय पर bus, train, airplane की ticket ले लेते हैं, समय पर बस स्टैंड पहुंच जाते हैं और हमें यह भी पता होता है कि अगर हम जरा सी भी देर करेंगे तो हमारी बस या ट्रेन छूट भी सकते हैं. इस उदाहरण में आपको यह समझाने की कोशिश कर रहा हूं कि जब हम अपने जीवन के ऐसी घटनाओं के लिए टाइम को मैनेज करते हैं तो हम अपने पूरे जीवन के लिए टाइम को मैनेज क्यों ना करें जब कि यह ज्यादा जरूरी है.

 तो आज  हम इस लेख के जरिए आपको यही बताने की कोशिश करेंगे कि आप समय का सदुपयोग कैसे कर सकें समय का सही उपयोग कैसे करें. तो चलिए एक-एक करके उन सभी टाइम मैनेजमेंट टिप्स (time management in Hindi) के बारे में मैं आपको बताता हू.


Time management tips in Hindi - समय का सदुपयोग कैसे करें 


1. important कार्य और urgent कार्य को आपस में मिक्स ना करें

टाइम मैनेजमेंट करने के लिए सबसे पहले आपको यह पता होना चाहिए की जो मैं कार्य कर रहा हूं वह important है या urgent है. क्योंकि कहीं लोगों को यह नहीं पता होता है कि important कार्य और urgent कार्य में क्या अंतर है.

जो कार्य पूरा करना जरूरी है पर तत्काल उसे पूरा करना इतना आवश्यक नहीं है उसे हम important कार्य कहते हैं और कुछ कार्य ऐसे होते हैं जो कि जरूरी होते हैं और कम जरूरी भी होती है पर उसे तत्काल ही पूर्ण करना पड़ता है. ऐसे कार्यों को हम urgent कार्य कहते हैं.

इंपॉर्टेंट कार्य और अर्जेंट कार्य को mix करने का सबसे बड़े नुकसान यह है कि हम ऐसे कार्यों में अपना कीमती समय बर्बाद कर देते हैं जोक आवश्यक नहीं थे और इसकी वजह से हमारा बहुमूल्य समय बर्बाद हो जाता है. 

हमारे कहने का तात्पर्य यह नहीं है की आप हमेशा अपने बिजनेस के कार्य को ही समय दें, अपने प्रोजेक्ट पर ही ध्यान दें. यहां पर जो हम आपको समय का सही उपयोग कैसे करें इसके बारे में बता रहे हैं. परिवार के साथ समय बिताना भी बहुत जरूरी है.

हमें हमारे कार्यों को उसकी अहमियत के हिसाब से  बांटकर उसे पूरा करना चाहिए. इस तरह से उसे व्यवस्थित करना चाहिए कि हमारे 1 दिन के जितने भी कार्य है वह सभी कार्य एक दिन में ही पूरे हो जाए. हर कार्य को करने के लिए पूरा समय दे.

2. social media का बिन जरूरी उपयोग ना करें

आज के डिजिटल युग में सोशल मीडिया का उपयोग हर व्यक्ति करता है. कई लोग तो पूरे पूरे दिन सोइकल मीडिया का इस्तेमाल करते हैं. जब भी हम कोई कार्य करने की सोचते हैं और कार्य कर रहे होते हैं तब अगर whatsapp में किसी ने मैसेज भेजा जोकि बिल्कुल जरूरी नहीं होता, तब भी हम उस मैसेज को तुरंत पढ़ते हैं और replay करते हैं और इसी वजह से हम जो कार्य कर रहे थे उससे हमारा ध्यान हटने लगता है. फिर कुछ मैसेज का रिप्लाई देने की बजाये हम कुछ मिनट तक उससे बात करने लगते हैं. ऐसे में हमारे कुछ मिनट तो यूं ही बर्बाद हो गए जिसका हमें कोई लाभ ना हुआ.

कहने का तात्पर्य यह है की बिन जरूरी सोशल मीडिया का इस्तेमाल ना करें. एक स्टडीज के हिसाब यह कहा गया है जो लोग लंबे समय तक कार्य करते हैं उन्हें सोशल मीडिया की वजह से डिस्ट्रक्शन होता है और समय ऐसे ही बर्बाद हो जाता है. 

हर व्यक्ति दिन में एक बार तो सोशल मीडिया एप्लीकेशन को ओपन करता है. और फिर मिनीटो तक वह सोशल मीडिया का use करते रहते हैं और ऐसे में हमारा बेहद जरूरी समय बर्बाद हो जाता है. जबकि उस समय का सही उपयोग कर सकते हैं, हमारे जो कार्य अधूरे पड़े हैं उसे पूरा कर सकते थे. 

तो हम यही बताने की कोशिश कर रहे हैं कि भले आप सोशल मीडिया का इस्तेमाल करें पर उसका बिन जरूरी उपयोग ना करें. उसकी वजह से आपके कार्य करने के समय में भी effect पड़ता है.

यह भी पढ़े:

3. आज के कार्य को कल करेंगे ऐसा विचार ही अपने मन में ना लाएं

अक्सर हम यह सोचते हैं या कहते हैं कि नहीं यह कार्य मैं कल करूंगा आज मूड नहीं है, आज समय ही नहीं है. जबकि समय तो होता है. पर हमने मन में यह निश्चय ही कर लिया होता है कि इस कार्य को मैं कल ही करूंगा और इसी की वजह से समय होने के बावजूद भी हम उस कार्य को कल पर छोड़ देते हैं और इसी की वजह से ही हमारे अगले दिन की दिनचर्या पर भी इसका प्रभाव पड़ता है. 

अगर हम आज करने वाले कार्य को कल पर छोड़ देंगे तो जो कार्य कल करने के हैं उस पर भी इसका सीधा असर पड़ेगा. 

इसीलिए जो कार्य हमें आज करना है उसे कैसे भी करके आज पूरा करना ही है ऐसा मन में निश्चय कर लीजिए. अगर एक बार आज का कार्य कल पर छोड़ देंगे तो फिर धीरे-धीरे यह आप की आदत (hobby) बन जाएगी और फिर आप हर बार यही सोचेंगे कि आज का कार्य मैं कल कर लूंगा. तो यह आपकी आदत बने इससे पहले ऐसा करना ही बंद कर दीजिए. इससे बचने का एक ही उपाय है आज का कार्य आज करें, कल पर ना ले जाइए.

4. आज जो कार्य करना है उसकी पूरी लिस्ट बनाइए 

जब दिन की शुरुआत होती है तब आपको एक सूची तैयार कर लेनी चाहिए या फिर आप अपने मन में ही सभी कार्यों की लिस्ट याद रख लीजिए. जब आप अपने कार्य की लिस्ट बनाते हैं तो यह जरूर देखें कि आप के आज के दिन के सभी कार्य उस लिस्ट में आ गए हो और सभी कार्यों को पूरा करने के लिए उचित समय भी दिया गया हो. 

कुछ इस तरह कि आज 9:00 बजे ऑफिस के लिए निकलना है, 10:00 बजे ये मीटिंग है, 11:00 बजे यह करना है, घर आते वक्त ए काम करना है, शाम को यह कार्य करना है, ऐसे. 

इसका भी एक और फायदा है कि अगर आप दिन की शुरुआत में ही अपने सभी कार्यों की लिस्ट बना लेंगे तो फिर आप कोई भी कार्य भूल नहीं जाएंगे. अगर आप लिस्ट बनाएं बिना याद रख के भी काम करेंगे तो भी चलेगा पर कभी-कभी ऐसा होता है कि कामों में व्यस्त रहने की वजह से और थकान की वजह से हम कुछ कार्य भूल जाते हैं. जबकि अगर हमने सुबह ही उसकी लिस्ट बना दी होती तो उसे भूलने की नौबत ही ना आती. आपको समझ में आ गया होगा की में क्या कहना चाह रहा हूं. 

5. कल क्या कार्य करना है उसका विचार आज ही करने की कोशिश करें

यह एक महत्वपूर्ण बात है. जब हम आज के सभी कार्यों को पूरा करने के बाद अगर कुछ समय बच जाता है, मतलब की रात के समय आपको सोचना चाहिए कि कल मैं क्या करूंगा, कल कौन से कौन से कार्य मुझे करने चाहिए. अगर आप आज ही यह सोच लेंगे कि कल मुझे क्या कार्य करना है तो फिर आप आज ही उसका प्लान बना सकते हैं और फिर आपको कल की कोई चिंता नहीं होंगी. आपका कल का टाइम टेबल fix रहेगा.

Also read:







मैं यहां पर यह नहीं कह रहा हु कि आज के कार्य को कल करें, बल्कि यह कह रहा हूं कि कल क्या करना है उसका आज विचार करें. इससे आपके कल के दिन के कार्य समय पर पूर्ण हो जाएंगे. समय का सदुपयोग करने में यह एक अहम् भाग है. आपको इस पर विचार करना चाहिए. 

Conclusion:

आशा करते हैं कि आप को ये आर्टिकल अच्छा लगा होगा. इस आर्टिकल में हमने आपको बताया है कि आप समय का सदुपयोग कैसे करें (time management tips in Hindi), समय का सही उपयोग करने के लिए क्या करें, टाइम मैनेजमेंट कैसे करें, टाइम मैनेजमेंट करने के लिए टिप्स (time management tips in Hindi).  हमने आपको यहां पर जो भी टाइम मैनेजमेंट टिप्स के बारे में बताया है उन्हें आप एक बार अपनाके जरूर देखें आपको इससे बहुत मदद मिलेगी. 

अब आपकी बारी है अगर आपको यह article useful लगा हो तो इसे अपने मित्रों को शेयर करें ताकि वह भी टाइम मैनेजमेंट टिप्स पर लिखा गया यह आर्टिकल पढ़ सके और समय का सदुपयोग कैसे करें इनके बारे में जान सकें. धन्यवाद.
Previous
Next Post »