internet क्या है और इसका मालिक कौन है - what is internet in hindi

इंटरनेट क्या है - what is internet in Hindi meaning | Internet यह शब्द तो आपने सुना ही होगा. आज के जमाने में इंटरनेट के बिना शायद ही कोई रह सकता है. आज पूरी दुनिया में इंटरनेट का इस्तेमाल कितनी तेजी से होने लगा है कि क्या बताएं. हम सभी लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं पर असल में आपको पता है कि आखिर यह इंटरनेट क्या है (what is internet in Hindi), इंटरनेट की खोज किसने की थी और किस वजह से इंटरनेट की खोज की गई थी.


what is internet in Hindi meaning
what is internet in Hindi

आपके मन में कभी ना कभी तो यह सवाल जरूर आया होगा कि इंटरनेट क्या है और इंटरनेट का मालिक कौन है तो आज इन्हीं सवालों के जवाब लेकर हम आपके पास आया है, तो अगर आप भी जानना चाहते हैं इंटरनेट से जुड़ी रोचक जानकारी तो पढ़ते रहिये यह article शुरुआत से लेकर अंत तक. इंटरनेट क्या है और इंटरनेट का मतलब क्या होता है इनके बारे में बताने से पहले मैं आपको कुछ और बात बताना चाहता हु.

आजके जमाने में बच्चे से लेकर बुजुर्ग तक सभी internet का इस्तेमाल कर रहे हैं. हम अपने रोज ब रोज के कार्य को करने के लिए internet का इस्तेमाल करते हैं. अगर 1 दिन बिजली चली जाए तो हम इतना परेशान नहीं होंगे जितना कि 1 दिन internet चले जाने से होंगे. हम अपने मनोरंजन के लिए, information प्राप्त करने के लिए किसी के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए और अन्य  कार्य को करने के लिए internet का इस्तेमाल करते हैं और यह हमारे निजी जीवन का एक अहम भाग बन चुका है. हर कोई mobile में लीन रहता है और यह internet की वजह से ही है. 

तो आज इसी के बारे में आपको जानकारी मिलने वाली है की इंटरनेट क्या है ( what is internet in Hindi ), इंटरनेट की खोज कब हुई थी और internet का मालिक कौन है. तो बने रहिएगा तो चलिए शुरू करते हैं.


Internet क्या है - what is internet in Hindi


अगर आप internet शब्द को ध्यान से देखें तो यह पूरा शब्द दो अलग-अलग शब्दों से मिलकर बना हुआ है और वह दो शब्द inter और network है, और network को short form में net कहा गया है और इन दो शब्दों को जोड़ने पर internet शब्द बनता है. 

जिसमे की पहला शब्द है inter, इसका मतलब होता है एक दूसरे से connected रहना और network का मतलब जाल होता है. अगर हम उन दो अलग-अलग शब्दों के मतलब तो एक साथ जोड़ तो इंटरनेट का मतलब हम आसानी से समाज सकते है. यह एक ऐसा जाल है, एक ऐसा बहुत बड़ा network है जिसमें कि विश्व के अलग-अलग स्थानों से बहुत सारे computer एक दूसरे से जुड़े हुए होते हैं और एक दूसरे के साथ इंफॉर्मेशन यानी की माहिती को transfer करते है.

Network के बहुत बड़े जाल को आसान शब्दों में internet कहा जाता है. आप यह article पढ़ रहे हैं तो वह internet के उपयोग से ही पढ़ रहे हैं, इंटरनेट नहीं होता तो आप यह आर्टिकल नहीं पढ़ पाते. 

यहाँ जो कुछ भी लिखा हुआ है, इस आर्टिकल को दुनिया के किसी भी जगह से किसी भी कंप्यूटर या मोबाइल से देखा और पढ़ा जा सकता है. और यह internet की वजह से ही संभव हो पाता है. आप मेरे लिखे हुए इस आर्टिकल को एक information यानी की माहिती के रूप में समजिये जिसे की दुनिया के अलग अलग जगहों से access किया जाता है.

internet के माध्यम से हम एक computer से  किसी और computer में data को भेज सकते हैं और receive भी कर सकते हैं. आपके मन में शायद यह question भी होगा की internet में कितने computer एक दूसरे से connected होते हैं. internet के इस विशाल जाल में एक, दो या तीन कंप्यूटर नहीं बल्कि लाखों-करोड़ों कंप्यूटर एक दूसरे से जुड़े हुए होते हैं.


internet protocol address क्या है - what is internet protocol address in Hindi


internet protocol address जिसे हम सामान्य तौर पर IP address के नाम से जानते हैं. जिस तरह society में हर एक person का अपना पता (address) होता है, ठीक उसी तरह इंटरनेट के इस विशाल जाल में हर एक कंप्यूटर का अपना अलग पता (address) होता है, अपना अलग IP address होता है. 

जब भी कोई device, computer या mobile इंटरनेट से connect होता है तो उस device की पहचान के लिए, उसकी location के लिए एक unique code provide कराया जाता है जैसे कि हम IP address यानी कि internet protocol address कहते हैं. हर device का अपना एक अलग IP address होता है.

अभी तक हमने आपको बताया कि इंटरनेट क्या है (what is internet in Hindi meaning) और इंटरनेट प्रोटोकोल एड्रेस क्या है (IP address क्या है). अब हम आपको इंटरनेट के फायदे (benefits of internet in Hindi) और इंटरनेट के नुकसान (disadvantage of internet in Hindi) के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं और उसके उपरांत हम आपको internet का इतिहास यानी कि इंटरनेट का मालिक कौन है इनके बारे में बताएंगे.

यह भी पढ़े:


internet के फायदे - benefits of internet in Hindi


internet के तो अनगिनत फायदे हैं जिनके बारे में हम सोच भी नहीं सकते. YouTube में video देखना, internet पर browsing करना, बस इतना ही इंटरनेट का उपयोग नहीं इसके अलावा उसके बहुत सारे कार्य है जिसमें इंटरनेट का उपयोग किया जाता है.


1. Online Recharge or shopping


इंटरनेट की मदद से हम घर बैठे अपने mobile का recharge कर सकते हैं और घर से ही अपनी मनपसंद चीजों को मंगवा सकते हैं, हर चीजें आपके घर के दरवाजे के सामने आकर खड़ी हो जाएगी. इंटरनेट के तेजी से हो रहे इस उपयोग के कारण आज सभी प्रकार के उद्योग में काफी बढ़ोतरी हो रही है.  पहले हमें shopping करने के लिए बाजार जाना पड़ता था पर अब आप घर से ही कुछ ही मिनटों के अंदर shopping कर सकते हैं.


2. online bills and payments


इंटरनेट के माध्यम से हम घर बैठे अपने बिजली का बिल, telephone का बिल और बहुत से प्रकार के बिल घर बैठे ही भर सकते हैं. इसके लिए हमें कहीं भी बाहर जाने की जरूरत नहीं पड़ती है. हम online payment कर सकते हैं, credit card और debit card और internet banking की मदद से दुनिया के किसी भी स्थान से पैसों का आदान- प्रदान कर सकते हैं.


3. private companies and government


बहुत सारी private company अपने business को बढ़ाने के लिए internet का उपयोग करती है और इससे उनके business में भी काफी बढ़ोतरी होती है. आज के जमाने में हर एक company की अपनी website होती है, उसके जरिए वह ग्राहकों को अपनी सेवा (services) के बारे में जानकारी प्रदान करते हैं, जिसकी मदद से ग्राहक उस कंपनी की सेवा के बारे में जानकारी लेकर उस सेवा का लाभ उठा सकते हैं. जिससे उस कंपनी को भी फायदा होता है और इसी तरह government भी अपने कार्यों को करने के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल करती है.


4. जानकारी प्राप्त करने के लिए


किसी भी विषय पर पूरी जानकारी हासिल करने के लिए इंटरनेट का उपयोग किया जाता है. पहले के जमाने में हम किताबों की मदद से यह कार्य करते थे. पर आज के जमाने में इंटरनेट की मदद से यह कार्य सरल हो जाता है.  किसी भी प्रकार की जानकारी हम इंटरनेट के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं.


5. education के लिए


internet तो ज्ञान का समुद्र है. किसी छात्र को किसी topic के बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी प्राप्त करनी हो तो वह internet की मदद से बड़ी ही आसानी से कर सकता है, YouTube पर हर तरह के videos उपलब्ध है जिसकी मदद से विद्यार्थियों को बहुत फायदा होता है.

यह तो थे इंटरनेट के फायदे जिसके बारे में जानकर हमें अच्छा लगता है पर जिनके  फायदे होते हैं उनके कुछ नुकसान भी होते हैं और इंटरनेट के भी कुछ नुकसान है इसके बारे में आपको पता होना चाहिए. तो आइए अब हम आपको इंटरनेट के नुकसान (disadvantage of internet in Hindi) के बारे में बताते हैं.


इंटरनेट के नुकसान - disadvantages of internet in Hindi


1. internet फ्री नहीं है


यह तो सभी को पता है कि इंटरनेट फ्री नहीं है, हमें इंटरनेट का उपयोग करने के लिए कुछ भुगतान भी करना पड़ता है. अगर आपको internet का इस्तेमाल करना है तो आपको उसके लिए recharge करवाना पड़ता है जिसके लिए आपको पैसे देने पड़ते हैं.


2. समय का बर्बाद होना - time pass करना


इंटरनेट के तो अनगिनत लाभ है पर कुछ लोग इंटरनेट मैं कोई जरूरी कार्य नहीं करते हैं और केवल social media पर ऐसे ही बिना किसी काम के internet का इस्तेमाल करते हैं, तो इसमें समय की बर्बादी है. इंटरनेट का use हम अपने फायदे के लिए कर सकते हैं, जानकारी प्राप्त करने के लिए हम इंटरनेट का उपयोग कर सकते हैं. अगर आप बिना किसी काम से रोज इंटरनेट का इस्तेमाल कर रहे हो तो यह आपकी आदत बन सकती है. इसीलिए internet का उपयोग केवल जरूरत पड़ने पर ही करें.

internet के और भी कई तरह के नुकसान हैं. मैंने यहाँ पर आपको बस कुछ नुकसान के बारे में बताएं चलिए अब बारी आती है यह जानने की इंटरनेट का मालिक कौन है, इंटरनेट का इतिहास क्या है 
(history of internet in Hindi)


इंटरनेट का इतिहास - history of internet in Hindi


किसी एक इंसान ने इंटरनेट का आविष्कार नहीं किया, बल्कि internet को develop करने के लिए कई सारे computer scientist और बड़ी-बड़ी कंपनियों के योगदान की जरूरत पड़ी है. 

internet के development में सबसे पहला पड़ाव तब आया जब दुनिया में electronic computer का विकास तेजी से हो रहा था और उन electronic computer को आपस में जोड़ने के लिए एक network की आवश्यकता थी.

और ऐसे  network को develop करने के लिए बहुत सारी laboratories मैं कार्य शुरू होने लगा, ज्योति US, UK और France में मौजूद थी.

इस नेटवर्क  के जरिए सबसे पहला संदेशा कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय की एक laboratory से Stanford research institute (SRI) में भेजा गया सन 1969 में.  

इंटरनेट  की शुरुआत अमेरिकी रक्षा विभाग ने 1969 में की थी.  और अमेरिकी रक्षा विभाग में इस नेटवर्क का इस्तेमाल अपनी मिलिट्री फोर्सेस में संदेशा के आदान-प्रदान के लिए किया जाता था. जिसके लिए ARPANET  नाम की एक computer का आविष्कार किया गया था जोकि आज बहुत बड़े network के जैसा कार्य करता था.

उस दौरान इंटरनेट का उपयोग केवल अमेरिकी रक्षा विभाग ही करती थी पर बाद में internet को सार्वजनिक तौर पर उपयोग करने के लिए स्वतंत्र कर दिया गया. 

तो यह था इंटरनेट का इतिहास (history of internet in Hindi). जिसमे कि आपको आपके प्रश्न का उत्तर मिल गया होगा कि इंटरनेट का मालिक कौन है, इंटरनेट का मालिक कोई एक व्यक्ति नहीं है नहीं है बल्कि बहुत सारे लोगों के योगदान से यह संभव हो पाया है.

Also read:

Conclusion:

 तो हम आशा करते हैं कि आपको यह article बहुत पसंद आया होगा और आपको इंटरनेट के बारे में लिखे गए इस article को पढ़ने में आनंद आया होगा. इस आर्टिकल में हमने आपको इंटरनेट क्या है (what is internet in Hindi), इंटरनेट का आविष्कार कब हुआ, इंटरनेट का आविष्कार किसने किया, इंटरनेट के फायदे (advantage of internet in Hindi), इंटरनेट के नुकसान (disadvantage of internet in Hindi) और इंटरनेट के इतिहास के बारे में संपूर्ण जानकारी देने की पूरी कोशिश की है.

अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे अपने मित्रों को शेयर करें ताकि वह भी internet के बारे में यह जानकारी प्राप्त कर सकें. धन्यवाद.
Previous
Next Post »