search engine क्या है और कैसे काम करता है - how search engine works in hindi

search engine क्या है, search engine कैसे काम करता है ( how search engine works in Hindi ) | क्या आपको पता है कि सर्च इंजन कैसे काम करता है ? सर्च इंजनthegworking factor क्या है ? अगर नहीं पता तो चिंता करने की जरूरत नहीं है यहां पर मैं आपको पूरी तरह से समझाने वाला हूं कि सर्च इंजन क्या है और कैसे काम करता है ( how search engine works ).  

तो आप इस आर्टिकल को शुरुआत से लेकर पूरे होने तक जरूर पढ़ना. तो चलिए शुरू करते हैं.

search engine आपने नाम तो सुना ही होगा अगर आपने सर्च इंजिन का नाम नहीं सुना है तो गूगल का नाम तो जरूर सुना होगा जिनका हम रोज इस्तेमाल करते हैं. तो google एक search engine ही है. 


how search engine works in hindi
how search engine works in hindi

जब हमें किसी सवाल का जवाब नहीं मिलता है तो हम पहले के जमाने में उस सवाल का जवाब पाने के लिए किसी किताब में ढूंढते थे या फिर किसी पढ़े लिखे इंसान से पूछते थे और इससे हमें अपने सवाल का जवाब ढूंढने में परेशानी होती थी. पर आज जमाना बदल गया है दुनिया digital हो गए हैं लोग अपने हर सवाल का जवाब पाने के लिए सीधे google में search करते हैं और गूगल हमें हमारे सवाल का जवाब कुछ second में ही दे देता है. 

तो क्या कभी आपने यह जानने की कोशिश की है कि गूगल हमें यह results कैसे दिखाता है इसके पीछे का कारण क्या है, search engine कैसे काम करता है (how search engine works ) कि हमें सही information मिलती है.

क्यों ऐसा नहीं होता है कि जब हम education के बारे में google में search करते हैं तो क्यों गूगल हमें movie, cinema का रिजल्ट नहीं दिखाता है. गूगल हमें education से related ही result दिखाएगा. अगर आपने education से रिलेटेड कोई भी शब्द गूगल में सर्च किया होगा तो. जिस किसी को भी किसी भी topic के बारे में या फिर किसी के भी बारे में कुछ भी information चाहिए होती है तो वह सीधे सर्च इंजन यानी कि गूगल का इस्तेमाल करते हैं. 

मैं यहां पर सर्च इंजन के लिए बार-बार गूगल शब्द का इस्तेमाल कर रहा हूं क्योंकि आप लोगों को गूगल के बारे में पता ही है. गूगल एक ही सर्च इंजन नहीं है और भी कई सर्च इंजन है. सबसे ज्यादा लोग गूगल का ही इस्तेमाल करते हैं कुछ लोग ही दूसरे सर्च इंजन का इस्तेमाल करते हैं. 

आज हम इस topic पर पूरी detail में डिस्कस करने वाले हैं कि search engine क्या होता है, search engine किस तरह से काम करता है, किस तरह से हमें सही रिजल्ट दिखाता है वह भी इतने कम समय में.

आपके लिए उपयोगी article :




search engine क्या है (what is search engine)



search engine एक तरह का program होता है यानी  कहे तो एक ऐसी automatic system है जोकि user के द्वारा सर्च किए गए शब्द से संबंधित जानकारी को सही तरीके से इकट्ठा करके हमें सही रिजल्ट provide करता है.

जो शब्द (keyword) या  सवाल  आप सर्च इंजन में सर्च करते हो और जैसे ही enter का बटन प्रेस करते  हो उसी समय सर्च इंजन आपके द्वारा सर्च किए गए शब्द से related जानकारियां या फिर उस सवाल का जवाब ढूंढने के लिए पूरे internet पर जितनी भी वेबसाइट होती है  जोकि सर्च इंजन में submit हुई होती है उन पर  जाता है, उन पर अपने algorithms को भेजता है और सही जानकारी लेकर  आप तक पहुंचाता है  वह भी 1 second में. 

search engine आपके द्वारा सर्च की जाने वाली query को पूरे world wide web पर ढूंढता है और आप तक पहुंचाता है.

internet पर लाखों की संख्या में websites होती है और उनमें से किसी न किसी वेबसाइट में आपके द्वारा सर्च की जाने वाले शब्द से संबंधित जानकारियां होती हैं तो उस जानकारी को आप तक पहुंचाने के लिए सर्च इंजन एक हम भाग निभाता है. जिसके जरिए आपको आपके सवाल के जवाब  पाने के लिए कुछ क्षण का इंतजार करना पड़ता है. 

सर्च इंजन के पास इंटरनेट में available सभी websites का Data होता है और वह उसे अपने database में store करके रखता हैं. यह जो मेरी वेबसाइट है वह सर्च इंजन में सबमिट हुई है. 

अब तो आपको पता चल गया होगा की इस सर्च इंजन क्या है और अब हम बात करते हैं कि आखिर सर्च इंजन  कैसे काम करता है ( how search engine works in hind ) वह किस तरह हमें रिजल्ट दिखाता है.

जरूर पढ़ें :



search engine कैसे काम करता है - how search engine works in hindi



सर्च इंजिन हमें रिजल्ट दिखाने से पहले 3 steps से गुजरता है और वह 3-step है crawling, indexing and ranking. जब भी सर्च इंजिन हमें रिजल्ट दिखाता है तब वह इन 3 steps से होकर गुजरता है और हमें सही रिजल्ट दिखाता है.

1. crawling

जब आप सर्च इंजन में कोई शब्द सर्च करते हैं तो सर्च इंजन के algorithms या कहे तो crawler इंटरनेट मे इस शब्द से रिलेटेड जितनी भी वेबसाइट है उसे ढूंढने की कोशिश करता है मतलब उस सभी websites को पूरी तरह से scan करता है. 

सर्च इंजन में जिस शब्द को आप सर्च कर रहे हो उसे keyword कहते हैं. उस keyword के जरिए ही सर्च इंजन आपको रिजल्ट दिखाता है. और यह सब काम सर्च इंजन के bots के द्वारा किया जाता है जो ऑटोमेटिक होता है. यह वेबसाइट को पूरी तरीके से बहुत ही कम समय में read करने की क्षमता रखता है. वह इतनी तेजी से websites को scan करता है जिसके बारे में हम सोच भी नहीं सकते. इन bots को spiders भी कहते हैं.

अभी आपके मन में एक सवाल आ रहा होगा कि आखिर यह crawlers वेबसाइट को scan किस तरह से करते होंगे. वेबसाइट को crawl करना तो एक ऑटोमेटिक सिस्टम है पर वह सिस्टम बड़ी ही बारीकी से पूरी वेबसाइट को स्कैन कर सकता है.

crawlers website मैं मौजूद webpages के title, meta description, tags, images, videos, keywords को पूरी तरीके से scan करता है और आपके द्वारा सर्च किए जाने वाले keywords  को वह पूरी वेबसाइट में जितनी भी title है, पैराग्राफ, phtos होते हैं उनमें ढूंढता है.

2. indexing

यह सर्च इंजन का दूसरा step होता है जिनमें सर्च इंजिन के crawlers वेबसाइट को scan करने के बाद उसे किसी memory में या फिर किसी database में store करता है. किसी भी वेबसाइट को स्कैन करके उस वेबसाइट के सारे डेटा को database में सेव करना आवश्यक होता है. यह एक process होता है.

google के crawlers लाखों करोड़ों की संख्या में वेब पेजेस को scan करता है और उसे अपने database में स्टोर करता है. गूगल information का समुद्र है और वह इन सभी information को अपने database में store करके रखता हैं. और इतने सारे data को स्टोर करने के लिए एक बहुत बड़े database center का होना बहुत जरूरी है. इन सभी डाटा को Peta bytes memory मैं स्टोर करके रखा जाता हैं. 

गूगल के पास विश्व का सबसे बड़ा database हैं. दुनिया की हर तरह की माहिती गूगल के डेटाबेस में store है.

3. Ranking 

Ranking सर्च इंजन का आखिरी और महत्वपूर्ण step होता है. search engine crawlers के द्वारा की गई वेबसाइट के data को और किस वेबसाइट को सबसे ऊपर दिखाना है और किस वेबसाइट को उसके बाद दिखाना है वह Ranking से ही decide होता है.

सर्च इंजन का काम है आपको जो जानकारी चाहिए उसे आप तक पहुंचाना, आपके सवाल का जवाब देना, आपको पूरी तरह से पूरी डिटेल में उस सवाल का जवाब मिल जाए इसीलिए गूगल के पास 100 से भी ज्यादा Ranking factors है. यह ranking factors (algorithms) को गूगल हर साल बदलता है. 

कोई भी यह नहीं जानता है कि यह Ranking factors किस basis पर काम करता है. कुछ-कुछ Ranking factors के बारे में तो सबको पता है जैसे कि गूगल keywords, meta tags, title, backlink, age of website, website authority, keyword density, uniqueness of content. search engine इन सभी के दम पर हमें results दिखाता है. पर इतना ही सब कुछ नहीं है इसके अलावा भी कई सारे Ranking factors होते हैं जिसके basis पर गूगल हमें रिजल्ट दिखाता है.

meta tags वह कहलाता है जो आपको web pages दिखाई नहीं देता है पर bots उसे देख पाते हैं, उसे scan कर पाते हैं. यह एक तरह की hidden information होती है. 

जब गूगल के crawlers वेबसाइट को स्कैन कर रहे होते हैं और अगर उस समय उस वेबसाइट में किसी और वेबसाइट के links मौजूद होती है तो crawlers साथ में उस दूसरी वेबसाइट को भी स्कैन कर लेते हैं और इसी तरह एक वेबसाइट से दूसरी वेबसाइट तक पहुंच  चाते है. और जो दूसरी वेबसाइट की link मौजूद होती है उसे backlink कहते हैं. आसान भाषा में कहें तो backlink मतलब एक वेबसाइट की link दूसरी वेबसाइट में मौजूद होना.

Google के algorithms इस 3rd step मे कभी भी गलती नहीं करते है. अगर search engines आपको गलत results दिखाने लगे तो फिर तो आपका सर्च इंजन पर भरोसा ही नहीं रहेगा. इसलिए गूगल इन algorithms  को और बेहतर बनाने की कोशिश करता रहता है.


world first search engine



दुनिया का सबसे पहला सर्च इंजन 1990 में Alan Emtage के द्वारा बनाया गया था जोकि McGill University in Montreal के विद्यार्थी थे. और उस सर्च इंजन का नाम Archie था. यह जानकारी विकिपीडिया में अवेलेबल है.


name of search engines


  1. Google
  2. Bing
  3. Yahoo
  4. yandex
  5. Ask
  6. Archie
  7. Aol
  8. Baidu
  9. DuckDuckGo

ऊपर दिए गए search engines में से सबसे ज्यादा उपयोग google का किया जाता है और उसके बाद Bing का किया जाता है.

conclusion

तो अब आप जान गए होगे की सर्च इंजन क्या है, सर्च इंजन कैसे काम करता है ( how search engine works in Hindi). और हमने यह भी जाना कि search engine मैं कौन से ऐसे 3 महत्वपूर्ण step होते हैं जिन पर सर्च इंजन काम करता है और उन सभी steps मे क्या-क्या होता है यह भी जाना. 

किस तरह से गूगल हमें result दिखाता है यह भी जाना और साथ में दुनिया का सबसे पहला सर्च इंजन (world's first search engine) कोनसा है. और यह भी मैंने आपको बताया की कौन-कौन से सर्च इंजन उपलब्ध है.

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा है और कुछ information मिली हो तो कृपया इसे अपने दोस्तों को जरुर शेयर कीजिए और आप इस blog के सभी आर्टिकल को एक बार जरूर पढ़ना. 

इसी तरह के article को पढ़ने के लिए आप thegreatinfo.in को subscribe कीजिए ताकि जब भी मैं कोई नया आर्टिकल publish करूं तो उसका notification आपको मिल जाए. धन्यवाद.

Previous
Next Post »